Gemstone Diamond Rashi Ratan Heera

Gemstone Diamond Rashi Ratan Heera
आचार्य संदीप कटारिया एक प्रशिक्षित ज्योतिष विशेषज्ञ हैं और 25 सालो से वैदिक ज्योतिष, अंक ज्योतिष, लाल किताब आदि क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वह नौकरी, व्यवसाय, शिक्षा, प्रेम संबंध, वैवाहिक, स्वास्थ्य, तलाक, क़ानूनी झगडे आदि विषयों पर अनेक लोगों का अपने ज्योतिषीय ज्ञान और सुझावों से कल्याण कर चुके हैं। अधिक जानकारी के लिए click करे

हीरा दुनिया भर में एक ऐसा रत्न है जिसका आकर्षण हर किसी को अपनी ओर खींचता है। महिलाएं तो इसे हमेशा पहनना पसंद करती हैं। और हो भी क्यों न, ज्योतिष में  शुक्र को सुन्दरता, ऐश्वर्य और स्त्री वर्ग के साथ जोड़ा गया है ।

ज्योतिष के अनुसार हीरा रत्न, शुक्र गृह का प्रतिनिधित्व करता है । यह एक अत्यंत प्रभावशाली रत्न होता है और एक अच्छा छोटा आकार का हीरा भी बाज़ार में काफी मूल्यवान होता है।

Gemstone Diamond Rashi Ratan Heera

हीरे के बारे में ख़ास बात ये है कि इसकी पॉजिटिव एनर्जी जितनी तेजी से अपना असर छोड़ती है, उससे कहीं अधिक तेजी से इसकी निगेटिव ऊर्जा अपना प्रभाव दिखलाती है। यही कारण है कि हीरा अथवा डायमंड को बिना ज्योतिषिय सलाह के पहनने की गलती नहीं करनी चाहिए।

कौन से लग्न राशि वालो को हीरा धारण करना चाहिए ( Persons of what Lagna should wear Diamond)

वृषभ व तुला लग्न के लिए हीरा रत्न पहनना शुभ होता है इसके साथ ही साथ कन्या और मकर लग्न के जातक भी इसे धारण कर सकते है ।
वैदिक ज्योतिष के अनुसार हीरा रत्न, शुक्र गृह का प्रतिनिधित्व करता है। हीरा शुक्र की शांति के लिए एवम उसको शक्ति शाली बनाने के लिए ही धारण किया जाता है।

हीरा धारण करने के लाभ (General Benefits of Wearing Diamond)

हीरा ज्योतिष की सलाह से पहनें तो आपका भाग्य चमक सकता है।  कई मामलों में हीरा पहनना खासतौर पर फायदेमंद होता है।

  • हीरा आपकी जिंदगी की समस्याओं का समाधान भी बन सकता है।
  • स्त्री वर्ग से जुड़े व्यापारियों के लिए भी हीरा शुभ फलदायक होता है जैसे आभूषण, कपडे, साज सज्जा का सामान आदि ।
  • जो जातक व्यापार, फिल्म उद्योग तथा कला क्षेत्र में ओर अधिक सफलता हासिल करना चाहते हैं तो वह अपना लग्न को देख कर हीरा धारण कर सकते हैं।
  • संबंधों में मधुरता के लिए, विशेषकर प्रेम संबंधों को हीरा बढ़ाता है। – प्रेम और दाम्पत्य जीवन के मामले में भी हीरा लाभकारी है। सुखी ववाहिक जीवन के लिए भी शुक्र गृह का शुभ स्थिति में होना आवश्यक है।
  • शिक्षा संबंधित परेशानी या विवाह में आती रुकावट हो तो हीरा का धारण करना लाभकारी साबित हो सकता है।
  • अग्नि, भय व चोरी से बचाता है।

स्वास्थ्य संबंधी लाभ (Health Benefits of Diamond)

  • हीरा धारण करने से आयु में वृद्धि होती है।
  • मधुमेह तथा नेत्र रोगों से निजात दिलाता है।
  • महिलाओं में गर्भाशय के रोग दूर करता है। पुरुषों में वीर्य दोष मिटाता है।

हीरा रत्न धारण करने का विधि विधान

  • 0.50 से 2 कैरेट तक के हीरे को चाँदीया सोने की अंगूठी में जड्वाकर किसी भी शुक्लपक्ष के शुक्रवार को सूर्य उदय के पश्चात अंगूठी को दूध, गंगा जल, शक्कर और शहद के घोल में डाल दे। उसके बाद पाच अगरबत्ती शुक्रदेव के नाम जलाये और प्रार्थना करे की हे शुक्र देव मै आपका आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए आपका प्रतिनिधि रत्न, हीरा धारण कर रहा हूँ , कृपया करके मुझे आशीर्वाद प्रदान करे। इसके बाद अंगूठी को निकाल कर ॐ शं शुक्राय नम: का 108 बारी जप करते हुए अंगूठी को अगरबत्ती के उपर से घुमाए फिर मंत्र के पश्चात् अंगूठी को लक्ष्मी जी के चरणों से लगाकर कनिष्टिका या मध्यमा ऊँगली में धारण करे।
  • अनामिका अंगुली में हीरा पहनने से प्रेम और रिश्तों में लाभ हो सकता है.
  • हीरे को मृगशिरा नक्षत्र में भी धारण कर सकते है ।
  • इसी प्रकार हीरे के लिए उपासक का मुख दक्षिण-पूर्व दिशा में तथा नीलम धारण करते समय मुख पश्चिम दिशा की ओर होना चाहिए।

हीरा रत्न धारण करने के लिए सावधानियां (Precautions before wearing Diamond)

शुक्र रत्न हीरा धारण करने से पहले अनुभवी ज्योतिष की सलाह अवश्य लें अन्यथा अशुभ होने की स्थिति में यह रत्न फायदा देने की बजाय नुक्सान दे सकता है और जातक के जीवन में तबाही मचा सकता है|

अन्य राशि रत्न के बारे में जानकारी

ज्योतिष आचार्य संदीप कटारिया से अपनी कुंडली का विश्लेषण और परामर्श करने के लिए समय लेने के लिए संपर्क करें:
Phone : +91 011 43022692 and +91 011 43022693 Mobile: +91 9873372726
कार्यालय में संपर्क करने का समय सुबह 10:00 से शाम 6:00 तक सोमवार से शनिवार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *