Gemstone Yellow Sapphire Rashi Ratan Pukhraj

Gemstone Yellow Sapphire Rashi Ratan Pukhraj
आचार्य संदीप कटारिया एक प्रशिक्षित ज्योतिष विशेषज्ञ हैं और 25 सालो से वैदिक ज्योतिष, अंक ज्योतिष, लाल किताब आदि क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वह नौकरी, व्यवसाय, शिक्षा, प्रेम संबंध, वैवाहिक, स्वास्थ्य, तलाक, क़ानूनी झगडे आदि विषयों पर अनेक लोगों का अपने ज्योतिषीय ज्ञान और सुझावों से कल्याण कर चुके हैं। अधिक जानकारी के लिए click करे

नवग्रहों के नवरत्नों मे से वृहस्पति का रत्न ‘पीला पुखराज’ होता है जिसे अंग्रेजी में Yellow Sapphire और उपरत्न को टोपाज’ कहते हैं। । इसे ‘गुरु रत्न’ भी कहा जाता है । यह हीरे और माणिक के बाद तीसरा सबसे कठोर रत्नत है। यह मुख्या रूप से पीले रंग का होता है लेकिन अलग-अलग भौगोलिक स्थिति के कारण यहाँ पांच अलग-अलग शेड में पाया जाता है। किन्तु वृहस्पति गृह के प्रतिनिधि रंग ‘पीला’ होने के कारण ‘पीला पुखराज’ ही इस गृह के लिए उपयुक्त और अनुकूल रत्न माना गया है ।

Gemstone Yellow Sapphire Rashi Ratan Pukhraj

सामान्यतः ब्राज़ील का पुखराज quality  मे सर्वोत्तम माना जाता है । वैसे भारत मे भी उत्तम किस्म का पुखराज पाया गया है ।

कौन से लग्न राशि वालो को पुखराज धारण करना चाहिए ( Persons of what Lagna should wear Yellow Sapphire)

धनु और मीन लग्न वाले जातको के लिए पुखराज पहनना बहुत लाभदायक सिद्ध होता है | वृश्चिक लग्न वाले जातक भी पुखराज पहन सकते है|

बृहस्प्ति एक बहुत ही शक्तिशाली ग्रह है। इस ग्रह की अच्छी दृष्टि जहां जातक  को धनवान बनाती है और समाज में प्रसिद्धि  दिलाती है|  वहीं यदि यह विपरीत फल दे तो अत्यं त बुरे फल देता है। इसलिए पुखराज सभी नहीं पहन सकते। इसको खरीदने से पहले किसी अच्छे ज्योतिष से कुंडली भी जरूर दिखवाए ।

जन्मकुंडली मे वृहस्पति की शुभ भाव मे स्थिति होने पर प्रभाव मे वृद्धि हेतु और अशुभ स्थिति अथवा नीच राशिगत होने पर दोष निवारण हेतु पीला पुखराज धारण करना चाहिए । बृहस्पति की महादशा तथा अंतर्दशा मे भी इसे धारण अवश्य करना चाहिए  ।

पुखराज धारण करने के लाभ (General Benefits of Wearing Yellow Sapphire)

  • पुखराज रत्न आपका भाग्य चमक सकता है! कई मामलों में पुखराज पहनना बहुत फायदेमंद होता है.
  • अच्छे पीले रंग का पुखराज धारण करने से व्यापार तथा व्यवसाय मे वृद्धि होती है ।
  • विवाह में अड़चने आती हो तो पुखराज को धारण करने विवाह शीघ्र हो जाता है।
  • पुखराज पहनने से मन शांत रहता है।
  • यह रत्न अविवाहित जातको (खासतौर से कन्याओं के लिए ) विवाह सुख, संतान सुख, दंपत्तियों को वैवाहिक जीवन मे सुख का  लाभ देता है ।
  • यह अध्ययन तथा शिक्षा के क्षेत्र मे भी उन्नति का कारक माना जाता है ।
  • संतान की कामना के इच्छुक दम्पतियों को शुद्ध पीला पुखराज अवश्य ही धारण करना चाहिए । इससे वंश में वृद्धि होती है
  • निर्बल वृहस्पति की स्थिति मे निर्दोष पुखराज धारण करना परम कल्याणकारी होता है ।
  • क्योंकि इसे निर्मलता का प्रतीक माना जाता है इसलिए इसे धारणा करने से मन निर्मल रहता है और बुरे विचार भी नहीं आते है

 
Online पुखराज खरीदने के लिए यहाँ click करे
 

स्वास्थ्य संबंधी लाभ (Health Benefits of Yellow Sapphire)

  • पुखराज धारण कर लेने से अनेक प्रकार के शारीरिक , मानसिक , बौद्धिक ओर दैवीय कष्टों से मुक्ति मिल जाती है ।
  • अच्छे पुखराज की पहचान और चयन कैसे करे
  • पीले रंग का पुखराज एक चमकदार रत्न होता है जिसे ध्यान से देखने पर ऐसा प्रतीत होता है जैसे इसके अंदर पानी हो। इस रत्न  से आर-पार दिखाई देता है किन्तु बहुत स्पष्ट नहीं।
  • पुखराज को चौबीस घंटे तक दूध मे रखने पर भी उसकी चमक मे कोई अंतर नही आए तो समझो की वह असली रत्न है ।
  • असली पुखराज पारदर्शी होने के साथ साथ हाथ मे लेने पर वजनदार लगता है ।
  • धूप मे सफ़ेद कपड़े पर रख देने से असली पुखराज मे से पीली किरणे निकलती है ।
  • असली पुखराज मे कोई न कोई रेशा अवश्य होता है चाहे वह छोटा-सा ही क्यों न हो ?

पुखराज रत्न धारण करने का विधि विधान

  • पुखराज कम से कम चार कैरट या उससे अधिक वजन का होना चाहिए|
  • पुखराज को सोने की अंगूठी मे जड़वाकर तथा शुक्लपक्ष मे गुरुवार को प्रातः स्नान और ध्यान के बाद दाहिने हाथ की तर्जनी उंगली मे धारण करना चाहिए। अंगूठी मे पुखराज को इस प्रकार से जड़वाएँ की रत्न का निचला सिरा आपकी अंगुली से स्पर्श करता रहे ।

 
Click here to buy Yellow Sapphire Rashi Ratan Online
 

सावधानियां (Precautions before wearing Yellow Sapphire)

गुरु रत्न पुखराज धारण करने से पहले अनुभवी ज्योतिष की सलाह अवश्य लें अन्यथा अशुभ होने की स्थिति में यह फायदा देने की बजाय नुक्सान दे सकता है !

अन्य राशि रत्न के बारे में जानकारी

 

ज्योतिष आचार्य संदीप कटारिया से अपनी कुंडली का विश्लेषण और परामर्श करने के लिए समय लेने के लिए संपर्क करें:
Phone : +91 011 43022692 and +91 011 43022693 Mobile: +91 9873372726
कार्यालय में संपर्क करने का समय सुबह 10:00 से शाम 6:00 तक सोमवार से शनिवार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *